जतन- डिजिटल संग्रह

जतन- डिजिटल संग्रह

भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के साथ समझौते के तहत, मानव केंद्रित डिजाइन और कंप्यूटिंग समूह, सी-डैक, पुणे, भारतीय संग्रहालय के लिए राष्ट्रीय पोर्टल और डिजिटल रिपॉजिटरी विकसित और होस्ट करता है। एचसीडीसी समूह ने ही जतन को भी विकसित किया है। यह एक आभासी संग्रहालय सॉफ्टवेयर है जिसका प्रयोग विभिन्न संग्रहालयों के लिए डिजिटल संग्रह तैयार करने के लिए तथा संग्रहालयों के राष्ट्रीय डिजिटल भंडार के प्रबंधन के लिए प्रयोग होने वाले डिजिटल अभिलेखीय युक्तियों को विकसित करता है।

संग्रह देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

museum-50
museum5

भारतीय संग्रहालय कोलकाता

भारतीय संग्रहालय की उत्पत्ति और विकास का इतिहास भारत की विरासत और संस्कृति के विकास की उल्लेखनीय घटनाओं में से एक है।... ”

संग्रहालय के बारे में

1814 में एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ बंगाल (वर्तमान में 1 पार्क स्ट्रीट पर स्थित एशियाटिक सोसाइटी की इमारत) द्वारा स्थापित भारतीय संग्रहालय सबसे पहला और केवल भारतीय उपमहाद्वीप में ही नहीं बल्कि विश्व के एशिया प्रशांत क्षेत्र का सबसे बड़ा बहुप्रयोजन संग्रहालय है।

हमारे साथ जुड़ें

Visits

212954